#JaunpurLive : तीन बच्चों के साथ कुएं में कूदी महिला, तीनों मासूमों की मौत, गांव में मातम का माहौल


जौनपुर । जिले में रविवार देर शाम एक हृदय विदारक घटना घटी। मीरगंज थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत अगहुआ में एक महिला अपने तीन बच्चों के साथ कुएं में कूद गई। लोगों ने महिला को जिंदा बाहर निकाल लिया। लेकिन घटना में तीनों बच्चों की मौत हो गई। दो बच्चों का शव रविवार रात जबकि एक शव सोमवार सुबह निकाला गया।
घटना के बाद से घर में कोहराम मचा है। वहीं गांव में मातम का माहौल है। घटना स्थल पर पुलिस और आसपास के ग्रामीणों की भीड़ जुटी है।  अगहुआ निवासी छोटेलाल प्रजापति की बेटी अंतिमा(32) की शादी पांच साल पहले सिकरारा क्षेत्र के चकमैथा डमरुआ निवासी सतीश से हुई थी। वह मुंबई में काम करता है। 15 दिन पहले ही अंतिमा ससुराल से आई थी।
रविवार शाम 6 बजे वह अपने घर से बेटी त्रिशा(4) और जुड़वां बेटे अतुल और अनुज को लेकर घर से निकली। वह कुछ दूरी पर स्थित कुएं पर पहुंची और बेटी को धकेल दिया और दोनों बेटों को लेकर कुएं में कूद गई। पास में घास काट रहे छोटे लाल प्रजापति ने कुएं में कुछ गिरने की आवाज सुनी तो दौड़ पड़े। लोगों ने अंतिमा को बाहर निकाला।
 इसके बाद कुएं में देखा तो जुड़वां बेटों के शव पानी में उतराए थे। दोनों शव को बाहर निकाला गया। बेटी की तलाश की जा रही थी। रात 11:30 बजे पाइप कम पड़ने के कारण फायर ब्रिगेड ने रेस्क्यू को रोक दिया था। सोमवार सुबह 9 बजे से पुलिस ने फिर से रेस्क्यू शुरू कराया। साढ़े 10 बजे बच्ची का शव मिला। भाई अनिल के मुताबिक अंतिमा की दिमागी हालत ठीक नहीं है। दो साल से उसका इलाज जौनपुर के एक अस्पताल से चल रहा है।
इस हृदय विदारक घटना से पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है। हर चेहरे पर बच्चों की मौत का गम साफ नजर आ रहा है।  मायके वाले भले ही कह रहे हैं कि मानसिक स्थिति ठीक न होने के कारण महिला बच्चों के साथ कुएं में कूद गई, लेकिन ग्रामीणों के गले के नीचे यह बात उतर नहीं रही है। अंतिमा को उपचार व मेडिकल मुआयना के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है।
 कुएं में गिरने के बाद अंतिमा अपने बच्चों को पानी में खोजने का प्रयास भी कर रही थी। जब गांव के लोग उसे बाहर निकाल रहे थे तो वह अपने बच्चों के लिए परेशान थी, और उन्हें चीखते हुए खोज रही थी। लेकिन, गांव के लोगों के समझाने पर वो रस्सी के सहारे बाहर आई।



from NayaSabera.com

Comments