भारत नें विश्व खाद्य दिवस 2021 मनाया - फूड टेक शिखर सम्मेलन आयोजित - खाद्य प्रसंस्करण और तकनीकी नवाचार के रुझानों पर मंच साझा करना मुख्य उद्देश्य | #NayaSaberaNetwork

भारत नें विश्व खाद्य दिवस 2021 मनाया - फूड टेक शिखर सम्मेलन आयोजित - खाद्य प्रसंस्करण और तकनीकी नवाचार के रुझानों पर मंच साझा करना मुख्य उद्देश्य | #NayaSaberaNetwork


नया सबेरा नेटवर्क
भारत में विश्व खाद्य दिवस 2021 पर आयोजित शिखर सम्मेलन में भारतीय खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र बनाम वैश्विक परिप्रेक्ष्य पर प्रख्यात वक्ताओं का साझा प्रबोधन सराहनीय - एड किशन भावनानी
गोंदिया - विश्व खाद्य दिवस का उद्देश्य वैश्विक भूख से निपटना और दुनिया भर में भूख मिटाने का प्रयास करना है। भारत में विश्व खाद्य दिवस 2021 16 अक्टूबर 2021 को फुड टेक शिखर सम्मेलन आयोजित कर बहुत सक्रिय सकारात्मक औरसमाधान कारक उद्देश्य से मनाया गया, जिसमें सभी खाद्य तकनीकी हितधारकों को खाद्य प्रसंस्करण और तकनीकी नवाचार से नए उभरते रुझानों पर जानकारी साझा करने, चर्चा करने और सूक्ष्म खाद्य उद्यमों को उनसे परिचित कराने के लिए एक मंच स्थापित करना था।...साथियों इस शिखर सम्मेलन में एक ऐसे तकनीकी के बारे में चर्चा हुई जिसमें खाद्य सुरक्षा हासिल करने में छोटे खाद्य उद्यमों की भूमिका बनाम वैश्विक परिप्रेक्ष्य के बारे में वक्ताओं ने अपनी बात कही।...साथियों बात अगर हम विश्व खाद्य दिवस 2021 की थींम की करें तो इस वर्ष का थीम हमारा कार्य ही हमारा भविष्य है - बेहतर उत्पादन - बेहतर पोषण- बेहतर पर्यावरण और बेहतरीन जीवन है थी, हालांकि अभी भी कोरोना महामारी चल रही है परंतु पिछले वर्ष की भयंकर कोरोना महामारी में थींम थी 2020 - एक साथ बढ़ो, पोषण करो, मदद करो, हमारे कार्य हमारा भविष्य है, रखा गया था।...साथियों इस वर्ष विश्व खाद्य दिवस का जोर उन खाद्य नायकों या व्यक्तियों को मनाने पर था जिन्होंने एक ऐसी स्थायी दुनिया के निर्माण में अपना योगदान दिया है, जहां किसी को भूखा नहीं रहना पड़े। इसका मुख्य उद्देश्य भूख मुक्त दुनिया केनिर्माण के उद्देश्य और प्रयास  में योगदान देना है।साथियों,हाल ही में वैश्विक भुखमरी सूचकांक 2021 जारी किया गया, जिसमें 116 देशों में से भारत 101वें पायदान पर रहा है। बता दें कि भारत साल 2020 में 94वें स्थान पर था। और अब यह  7 पायदान नीचे आ गया। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य दुनिया जहां में फैली भिखारी को हमेशा के लिए खत्म करना। इस विषय में हर साल अलग-अलग थीम तय की जाती है और उसपर साल भर काम किया जाता हैं।...साथिया बात अगर हम विश्व खाद्य दिवस मनाने की करें तो सिर्फ नाम मात्र से मनाने या उत्सव करने की बात नहीं है, हमें इस दिन कुछ संकल्प करना होगा, इस दिन से कुछ सीखना होगा। संकल्प यह है कि हमें अन्न की बर्बादी स्वयं भी और अन्य लोगों को भी रोकने पर बल देना होगा। भोजन जितना खा सके उतना ही थाली में लें, अन्यथा लेकर उसे बचाएं नहीं वर्तमान बदलती जीवन शैली में,अन्न की बर्बादी एक समस्या बन गई है। आधुनिकता की दौड़ में हम भूल जाते हैं कि आज़ भी हजारों लाखों लोग भोजन की कमी के चलते भूख से भूखे सो जाते हैं। आज भी बच्चों से लेकर बड़े रोटी की भीख मांगने घर-घर में आते हैं इसका प्रेक्टिकल अनुभव लोगों को होगा। इसलिए हम इस दिन अन्न की बर्बादी रोकने का संकल्प लेना होगा।...साथियों बात अगर हम विश्व खाद्य दिवस को भारत में मनाने की करें तो 16 अक्टूबर 2021 को पीआईबी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार शिखर सम्मेलन में उद्योग जगत के प्रख्यात वक्ताओं ने सूक्ष्म उद्यमों के लिए कई अहम बातें साझा कीं और घरेलू तथा वैश्विक स्तर पर खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त किया।विश्व खाद्य दिवस मनाने के लिए, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने पीएम सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्यम औपचारिकीकरण (पीएमएफएमई) योजना के तहत 16 अक्टूबर 2021 को फूड टेक समिट का आयोजन किया। फूड टेक समिट 2021 का उद्देश्य सभी खाद्य - तकनीकी हितधारकों को खाद्य प्रसंस्करण और तकनीकी नवाचार में नए उभरते रुझानों पर जानकारी साझा करने, चर्चा करने और सूक्ष्म उद्यमों को उनसे परिचित कराने के लिए मंच तैयार करना है। विशिष्ट वक्ताओं ने खाद्य सुरक्षा हासिल करने में छोटे खाद्य उद्यमों की भूमिका भारत बनाम वैश्विक परिप्रेक्ष्य के बारे में अपनी बातें कहीं। स्वदेशी खाद्य - स्केल, मार्केट और सूक्ष्म उद्योगों में इसके प्रसंस्करण पर एक सत्रआयोजित किया है, जिसमें वक्ताओं ने नई पीढ़ी के खाद्य और प्रौद्योगिकी/हाल के रुझान (आरटीई/सुविधाजनक खाद्य पदार्थ) पर सत्र का आयोजन किया। निर्यात संभावित खाद्य उत्पाद और सूक्ष्म खाद्य उद्योग में इसके दायरे पर एक सत्र आयोजित किया। खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने फूड टेक समिट को संबोधित किया और भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास कारक के रूप में सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पीएमएफएमई योजना के माध्यम से भारत में खाद्य प्रसंस्करण को प्रोत्साहित किया जा रहा है। फूड टेक समिट वर्तमान परिदृश्य में अपने खाद्य व्यवसाय को बढ़ाने के लिए हितधारकों को सही फैसले लेने में सक्षम बनाने के लिए उन्हें शिक्षित करने और उनका मार्गदर्शन करने के लिए विशिष्ट उद्योग विशेषज्ञों के सहयोग से खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की यह एक अच्छी पहल है। इस शिखर सम्मेलन में विभिन्न प्रतिष्ठित अतिथि वक्ताओं की भागीदारी के अलावा, राज्यों के सरकारी अधिकारियों और खाद्य प्रसंस्करण सूक्ष्म उद्यमों की भी भागीदारी रही। इसे सफलतापूर्वक लाइव होस्ट किया गया और इसमें सभी हितधारकों की बड़ी भागीदारी देखी गई।...साथिया बात अगर हम विश्व खाद दिवस के इतिहास की करें तो, विश्व खाद्य दिवस हर साल 16 अक्टूबर को मनाया जाता है। यह दिन न केवल हमें इस बात का एहसास कराता है कि, हमें दुनिया के व्यंजनों को खाने के लिए कितनेविशेषाधिकार प्राप्त हैं, बल्कि यह दिवस गैर - विशेषाधिकार प्राप्त लोगों के बारे में जागरूकता भी बढ़ाता है। यह दिन खाद्य और कृषि संगठन की स्थापना को भी स्वीकार करता है और दुनिया भर में भूख से त्रस्त वर्ग को भी उजागर करता है। 16 अक्टूबर, 1945 को संयुक्त राष्ट्र द्वारा खाद्य और कृषि संघ की स्थापना की गई थी। वर्ष, 2021 में आज ही के दिन इस ऐतिहासिक दिन की 76वीं वर्षगांठ है। अतः अगर हम उपरोक्त पूरे विवरण का अध्ययन कर उसका विश्लेषण करें तो हम पाएंगे के भारत में विश्व खाद्य दिवस 2021 के उपलक्ष में शिखर सम्मेलन आयोजित कर खाद्य प्रसंस्करण और तकनीकी नवाचार के रुझानों पर मंच साझा कर मुख्य उद्देश्य के रूपमें मनाया गया। जिसमें प्रख्यात वक्ताओं का साझा प्रबोधन सराहनीय रहा। 
संकलनकर्ता लेखक- कर विशेषज्ञ एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र

*मिर्च मसाला रेस्टोरेन्ट एण्ड होटल # ठहरने हेतु कमरे की उत्तम व्यवस्था उपलब्ध है। # ए.सी. रूम # डिलक्स रूम # रेस्टोरेन्ट # कान्फ्रेंस हाल # किटी पार्टी # बर्थ-डे # बैंकवेट हाल # क्लब मीटिंग # सम्पर्क करें - Mob. 9161994733, 9936613565* Ad




*समस्त जनपदवासियों को शारदीय नवरात्रि, दशहरा, धनतेरस, दीपावली एवं छठ पूजा की हार्दिक शुभकानाएं : ज्ञान प्रकाश सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता*
Ad



*Ad : जौनपुर टाईल्स एण्ड सेनेट्री | लाइन बाजार थाने के बगल में जौनपुर | सम्पर्क करें - प्रो. अनुज विक्रम सिंह, मो. 9670770770*
Ad



from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/3n2jl4b


from NayaSabera.com

Comments