Book Review : इत्ती सी खुशी #JaunpurLive


Book Review : इत्ती सी खुशी #JaunpurLive


नाम : सर्वेश यादव (लेखक, रंगमंच अभिनेता)
पुस्तक : इत्ती सी ख़ुशी
प्रकाशक : रेडग्रैब बुक्स 
मूल्य :175/- 
उप्लब्ध : अमेज़ॉन, फ्लिपकार्ट
पुस्तक के विषय में - 
'इत्ती सी ख़ुशी' सर्वेश यादव द्वारा लिखी पहली किताब है जिसका प्रकाशन 'रेडग्रैब बुक्स' ने किया है जो कि 'अमेज़ॉन' और फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है। साथ ही साथ ई-बुक्स के माध्यम से किताब 'अमेज़ॉन किंडल', 'गूगल बुक्स' और 'कोबो बुक्स' पर वर्ल्डवाइड प्रकाशित हुई है। 
इत्ती सी ख़ुशी एक कहानी संग्रह है। इसमें उपस्थित सारी कहानियाँ सामाजिक मुद्दे पर आधारित है, हर कहानी समाज के किसी न किसी पहलू के विषय में बात करती है। सर्वेश की लिखी कहानी के किरदार बहुत ही आसान लफ़्ज़ों में समाज में उपस्थित कुरूतियों को आपके समक्ष पेश कर आपको सोचने पर विवश कर देते हैं। किताब के प्रकाशित होते ही यह लोगों में चर्चा का विषय बन चुकी है। देश के विभिन्न हिस्सों से लोग इस किताब को खरीदने लगे हैं। 

लेखक के विषय में - 
उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के एक मशहूर गाँव दरियावगंज के निवासी सर्वेश यादव का जन्म 16 फरवरी 1997 को हुआ। श्री धर्मेंद्र यादव और श्रीमती शीला यादव के इकलौते पुत्र सर्वेश की प्रारंभिक से लेकर स्नातक तक कि शिक्षा जौनपुर में ही हुई। 
लेखनी के प्रति रुझान बचपन से तो नही था पर, दादाजी 'श्री लल्लाराम यादव' बचपन में पंचतंत्र की कहानियाँ अवश्य सुनाया करते थे शायद वंही से कहानियों के प्रति दिलचस्पी बढ़ती गयी। 
शुरुआत मुम्बई से हुई जहाँ अनेक धारावाहिकों में बतौर सहायक लेखक काम कर लेखन की बारीकियां सीखी और फिर पहली किताब 'इत्ती सी ख़ुशी' का सृजन हुआ और इस किताब के माध्यम से सर्वेश यादव साहित्य की दुनिया में अपना पहला क़दम रख रहें हैं। 
लेखन के साथ-साथ अभिनय में भी गहरी रूचि है जिसके लिए रंगमंच पर निरंतर अभिनय जारी है। सर्वेश यादव मालविकाग्निमित्रम(संस्कृत), बसामन मामा(बघेली), रानी चेनम्मा(हिंदी) जैसे अलग-अलग भाषाओं के नाटकों में किरदार निभा चुके हैं।



from NayaSabera.com

Comments