घर की जान होती है बेटियां | #NayaSaberaNetwork


नया सबेरा नेटवर्क
कविता
            
घर की जान होती है बेटियां

घर की जान होती है बेटियां
पिता की आन बान शान होती है बेटियां 
बेटों से कम नहीं होती है बेटियां
पिता का गुमान होती है बेटियां

मां बहू भाभी पत्नी बनकर,
सेवा करती है बेटियां           
खुद अपमान सह, 
दूसरों को मान देती है बेटियां        


कमियों को भुला जो मिले, 
उसमें खुश रहती है बेटियां
हर हाल में खुश हो, 
मुस्कुराती रहती है बेटियां

खुद की पहचान मिटा दूसरों की 
पहचान अपनाती है बेटियां     
बहू बन सास ससुर की, 
सेवा करती है बेटियां

सुनो जग वालों ,धन मन हृदय 
सब कुछ है बेटियां
लक्ष्मी सरस्वती पार्वती, 
का रूप है बेटियां


घर की जान होती है बेटियां
पिता की आन बान शान होती है बेटियां 
बेटों से कम नहीं होती है बेटियां
पिता का गुमान होती है बेटियां
  
-कर विशेषज्ञ साहित्यकार कानूनी लेखक चिंतक कवि एड किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र

*समस्त जनपदवासियों को शारदीय नवरात्रि, दशहरा, धनतेरस, दीपावली एवं छठ पूजा की हार्दिक शुभकानाएं : ज्ञान प्रकाश सिंह, वरिष्ठ भाजपा नेता*
Ad



*Ad : जौनपुर टाईल्स एण्ड सेनेट्री | लाइन बाजार थाने के बगल में जौनपुर | सम्पर्क करें - प्रो. अनुज विक्रम सिंह, मो. 9670770770*
Ad

*मिर्च मसाला रेस्टोरेन्ट एण्ड होटल की ग्रैण्ड ओपनिंग 15 अक्टूबर 2021 को # ठहरने हेतु कमरे की उत्तम व्यवस्था उपलब्ध है। # ए.सी. रूम # डिलक्स रूम # रेस्टोरेन्ट # कान्फ्रेंस हाल # किटी पार्टी # बर्थ-डे # बैंकवेट हाल # क्लब मीटिंग # सम्पर्क करें - Mob. 9161994733, 9936613565*
Ad



from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/3lI9d0T


from NayaSabera.com

Comments