योद्धा के रूप में सीमा द्विवेदी ने तय किया 30 वर्षों का राजनीतिक सफर | #NayaSaberaNetwork

योद्धा के रूप में सीमा द्विवेदी ने तय किया 30 वर्षों का राजनीतिक सफर | #NayaSaberaNetwork


नया सबेरा नेटवर्क
जौनपुर: जौनपुर जिले की गढ़वारा से और मुंगरा बादशाहपुर की विधायक रही राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी विश्वास और विकास कार्यो के लिये बस नाम ही काफी है। शिक्षा और संस्कारों के प्रणेता अपने पिता भाजपा जिलाध्यक्ष रहे स्व.मातासेवक उपाध्याय की सामाजिक,राजकीय परिपाटी को आगे बढाने में निरंतर सक्रिय सीमा द्विवेदी ने अपने तीस वर्ष के सामाजिक एवम राजनैतिक कार्यकाल में भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा को आगे बढ़ाने का कार्य किया। सफल राजनेता के रूप में स्थापित सीमा द्विवेदी ने अपनी सहजता,सरलता,सौम्यता से क्षेत्र की जनता के दिलो पर राज किया है। 1995 में पहली बार जिला पंचायत सदस्य के रूप में निर्वाचित हुईं सीमा द्विवेदी ने पहली बार 26 वर्ष की उम्र में गढ़वारा विधानसभा से विधानसभा चुनाव जीतकर विधान भवन में पहुची। सीमा द्विवेदी उस समय की विधानसभा में सबसे कम उम्र की विधायक थी। उसके बाद सीमा द्विवेदी 2007 में विधानसभा चुनाव जीत कर सीमा द्विवेदी दूसरी बार सदन में पहुची।भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्षा की जिम्मेदारी भी पार्टी की तरफ से दी गयी जिसका उन्होंने भली प्रकार निर्वहन किया। 2012 विधानसभा चुनाव में पहली बार बनी मुंगरा बादशाहपुर विधानसभा से तीसरी बार जीत दर्ज कर सीमा द्विवेदी पूर्वांचल में अपनी ख्याति स्थापित किया। 2018 में केंद्रीय उर्वरक एवम रसायन मंत्रालय के निदेशक (दर्जा प्राप्त मंत्री) के रूप में जहां सरकार में काम करने का अवसर मिला तो भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्षा के रूप में संगठन में कार्य करने का पार्टी ने अवसर दिया। महिला मोर्चा की जिम्मेदारी मिलने के बाद सीमा द्विवेदी गोवा,गुजरात,दिल्ली,महाराष्ट्र,
मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनावों में पार्टी का जमकर प्रचार प्रसार किया। 2020 में सीमा द्विवेदी को राज्यसभा के लिये उत्तर प्रदेश से उम्मीदवारी दी गयीं। निर्विरोध हुये राज्यसभा के चुनाव में सीमा द्विवेदी राज्यसभा में पहुची तो संसद में प्रवेश करते समय संसद की डयोड़ी को प्रणाम किया। 
 राजनेता के साथ अच्छी माँ,अच्छी बहू एवम पत्नी भी है सीमा
देश की सर्वोच्च पँचायत का प्रतिनिधित्व कर रही सीमा द्विवेदी कुशल राजनेता के साथ अच्छी माँ और आदर्श पत्नी भी है। अपने सामाजिक दायित्वों से समय निकालकर अपने पति डॉक्टर अरुण कुमार द्विवेदी एवम पुत्र डॉक्टर उत्कर्ष द्विवेदी को भी देती है। परिवार की छोटी बड़ी चीजो का पूरा ख्याल रखतीं है। ससुर डॉक्टर जगदीश द्विवेदी के स्वास्थ्य नियमित ध्यान रखती है। परिवार की बड़ी बहू होने के कारण सभी छोटी एवम छोटे पारिवारिकजनों को पूरा ख्याल रखती है।
 कार्यकर्ताओ को देवतुल्य समझती है
भारतीय जनता पार्टी के संस्कार सीमा द्विवेदी के अंदर पिता स्व.मातासेवक उपाध्याय एवम भ्राता सुधाकर उपाध्याय से भले मिले रहे हो पर उनको समय समय पर निखारने के कार्य स्वयं सीमा ने खुद किया। कार्यकर्ताओ को देवतुल्य समझने वाली सीमा द्विवेदी कार्यकर्ताओ के सम्मान की खातिर सदैव समर्पित रही है। बूथ स्तर से जिला और प्रदेश के पदाधिकारी भी सीमा द्विवेदी से परामर्श एवम सहयोग के लिये आते है जिनका पूरा सहयोग एवम मार्गदर्शन सीमा द्विवेदी करती है।
 विकास कार्यों के प्रति भी समर्पित रहती है 
लंबे सामाजिक एवम राजनैतिक कार्यकाल में सीमा द्विवेदी ने विकास कार्यो के प्रति सदैव समर्पण रखा है। समाज के प्रत्येक वर्ग के विकास और सौहार्द को समर्पित सीमा द्विवेदी अपनी निधि का पूरा अंश बिजली,पानी,सड़क,एवम शिक्षा के क्षेत्र में व्यय करती है। केंद्र एवम राज्य शाषन के माध्यम से मुंगरा बादशाहपुर जौनपुर की कई सड़को का नव निर्माण,मरम्मत,इंटर लॉकिंग,अस्पताल के निर्माण,उद्यान का विकास,बिजली की समस्याओं पर कार्य किया है। कई शैक्षणिक संस्थाओं को शैक्षणिक कक्ष का निर्माण भी करवाकर दिया। बेलवार घाट सई नदी पर पुल का निर्माण,वरुणा नदी पर पुल का निर्माण सीमा द्विवेदी के प्रयासों से हुआ। पेयजल की क्षेत्र की समस्या को देखते हुये पानी की टंकी भी कई जगहों पर प्रस्तावित की है जिनका निर्माण प्रारम्भ होने जा रहा है।

*प्रवेश प्रारम्भ : मो० हसन पी.जी. कालेज, जौनपुर | स्व. नूरुद्दीन खाँ एडवोकेट गर्ल्स डिग्री कालेज, अफलेपुर मल्हनी बाजार, जौनपुर | सत्र 2021-22 में प्रवेश प्रारम्भ - सीमित सीटें (बीए, बीएससी, बीकाम एवं एमए, एमएससी, एमकाम) पूर्वांचल वि.वि. में संचालित सभी पाठ्यक्रम | न्यू कोर्स स्नातक स्तर पर - संगीत- तबला, सितार एवं बीबीए स्नातकोतर स्तर पर – बायोकमेस्ट्री, माइकोबाइलॉजी एवं कम्प्यूटर साइंस | शुल्क- अत्यन्त कम एवं दो किस्तों में जमा की जा सकती है| 1- भव्य प्रयोगशाला, 2- योग्य प्राध्यापक, 3- कीड़ा स्थल | सभी विषयों में ऑनलाइन/आफलाइन कक्षाएं 05 जुलाई 2021 से प्रारम्भ कर दी जायेगी. अधिक जानकारी के लिए निम्न नम्बर पर सम्पर्क करें (05452-268500) 9415234384, 9336771720, 7379960609*
Ad



*Ad : जौनपुर टाईल्स एण्ड सेनेट्री | लाइन बाजार थाने के बगल में जौनपुर | सम्पर्क करें - प्रो. अनुज विक्रम सिंह, मो. 9670770770*
Ad

*Admission Open : ROYAL COACHING INSTITUTE (Royal Educational & Social Welfare Society) Contact: 05224103694 9919906815, 6390007012 | Jaunpur Center-House No. 171 Near Income Tax Office, Shekhupur, Hussenabad, Jaunpur - 222002 | Head Office - Ground Floor, Kailash Kala Building, 9-A Shahnajaf Road, Hazratganj, Lucknow - 226001 | भारत सरकार द्वारा फ्री कोचिंग व छात्रवृत्ति | COURSE : NEET - MEDICAL | SPONSORED BY MINISTRY OF SOCIAL JUSTICE AND EMPOWERMENT GOVERNMENT OF INDIA | Admission Open — SC / OBC वर्ग के छात्र छात्राओं के लिये • Last Date : 5 July 2021 • स्टाइपेन्ड 3000 /- रु प्रतिमाह स्थानीय तथा 6000/- रू प्रतिमाह बाहरी अनुमन्य है। • 8 लाख रुपये तक के वार्षिक पारिवारिक आय वाले छात्र छात्राएं प्रवेश के योग्य होंगे। • छात्र/छात्राओं को शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, Course Duration बैंक एकाउन्ट और तीन पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ प्रार्थना पत्र के साथ संलग्न करना अनिवार्य है। Total Seats 85 9 Months/ • आनलाईन आवेदन के लिए visit www.resws.org/enrollment-form/ • अनिवार्य डॉक्युमेन्ट coaching.royal@gmail.com पर ईमेल करें। 39 weeks | विशेषताएं — अनुभवी और उच्चशिक्षित शिक्षकों द्वारा कक्षायें ली जायेंगी। • वातानुकूलित, स्मार्ट क्लास रूम और ऑनलाईन क्लासेस की सुविधा। • उचित शैक्षिक माहौल व लाइब्रेरी की सुविधा। समय-समय पर टेस्ट ले कर परीक्षा की विशेष तैयारी कराना। • अधिक जानकारी के लिये सम्पर्क करें.* Ad
Ad


from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/3haWDEb


from NayaSabera.com

Comments