विश्व युवा कौशल विकास दिवस 2021 का विश्लेषण | #NayaSaberaNetwork

विश्व युवा कौशल विकास दिवस 2021 का विश्लेषण | #NayaSaberaNetwork


नया सबेरा नेटवर्क
तकनीकी कौशल विकास - बेरोजगारी मिटाने का सटीक अस्त्र - आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद 
हर नागरिक अपने कौशल विकास का क्रियान्वयन करें तो, भारत में बेरोजगारी जीरो होगी और आत्मनिर्भर भारत की सटीक बुनियाद होगी - एड किशन भावनानी
गोंदिया - भारत आज 135 करोड़ की विशाल जनसंख्या वाला परिवार है और उसमें भी युवाओं की संख्या अधिक है फिर भी आंकड़ों का गणित है कि भारत में बेरोजगारी अधिक है। जीडीपी दर प्रतिव्यक्ति आय, इत्यादि अनेक अर्थशास्त्रीय आंकड़े पूर्णविकसित देशों की अपेक्षा भारत में बहुत कम है और भारत विकासशील देशों की श्रेणी में आता है ऐसा अर्थशास्त्र में हम पढ़ते सुनते हैं। अभी 15 जुलाई 2021 को हम सब भारत वासियों ने विश्व केसाथ मिलकर विश्व युवा कौशलविकास दिवस 2021, रिमेनिंग यूथ स्किल्स पोस्ट पैडेमिक इस थीम के साथ मनाए जो कि हर साल अलग-अलग थीम पर मनाया जाता है।...साथियों बात अगर हम विश्व युवा कौशल विकास दिवस भारत में  मनाने की करें तो हम सब 135 करोड़ भारतीयों को इसे मनाने के साथ-साथ इसके क्रियान्वयन पर अधिक बल देना चाहिए। क्योंकि भारत की मिट्टी और संस्कारों से हमें कौशल गॉड गिफ्ट में मिला है। बस !!! जरूरत है इसे क्रियान्वयन करने की... साथियों हम इतनी विशाल जनसंख्या में हैं, मेरा निजी मानना है कि हर व्यक्ति के पास किसी न किसी रूप में अपने आप में एक कौशल, एक तकनीकी समाई हुई है, बस जरूरत है उसे पहचान कर, कुछ ट्रेनिंग लेकर उसे क्रियान्वयन करने की।...बस क्या बात है!!! ऐसा अगर हमारे सभी भारतीय साथियों ने संकल्प कर लिया तो कोई बेरोजगार नहीं रहेगी और हर युवा साथियों के पास अपने कौशल के माध्यम से एक रोजगार होगा। जिसका भारत पर ही नहीं वैश्विक अर्थव्यवस्था में बड़ा योगदान, सहयोग व साथ होगा। भारत की प्रतिष्ठा में चार चांद लग जाएंगे।भारत की अर्थव्यवस्था को हम पांच क्या 10 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचा सकते हैं। बस!!! जरूरत है अपने कौशल को क्रियान्वयन करने की।...साथियों बात अगर हम हमारी सोच की करें तो अधिकतम हमारे साथी रोजगार या जॉब को तलाश करने में रहकर,अपना समय गवां देते हैं जबकि सरकार ने 2015 से राष्ट्रीय कौशल विकास निगम बनाया है राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा दिनांक 01.07.2015 को अनुमोदित किया गया था, और माननीय पीएम द्वारा विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर दिनांक 15.07.2015 को इसे आधिकारिक रूप से प्रारम्भ किया गया था। इस मिशन को कौशल प्रशिक्षण गतिविधियों के संदर्भ में क्षेत्रों और राज्यों में अभिसरण बनाने के लिए विकसित किया गया है। इसके अलावा, कुशल भारतके दृष्टिकोण को प्राप्त करने के लिए, राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन न केवल कौशल प्रयासों को समेकित और समन्वित करेगा, बल्कि गति और मानकों के साथ कौशलीकरण प्राप्त करने के लिए सभी क्षेत्रों में निर्णय लेने में तेजी लाएगा। इसे कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) द्वारा संचालित एक सुव्यवस्थित संस्थागत तंत्र के माध्यम से लागू किया जाएगा। मिशन के समग्र उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में कार्य करने के लिए प्रारम्भ में सात उप-मिशन प्रस्तावित किए गए हैं। जो इस प्रकार हैं,(i) संस्थागत प्रशिक्षण, (ii) अवसंरचना, (iii) अभिसरण, (iv) प्रशिक्षक (v) समुद्रपारीय रोजगार (vi) सतत आजीविका (vii) सार्वजनिक अवसंरचनाका उत्थान राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा किये गए एक अध्ययन के अनुसार, वर्ष 2023 तक भारत के श्रमबल में 15-59 वर्ष की कार्यशील-आयु के 7 करोड़ अतिरिक्त व्यक्तियों के प्रवेश करने की उम्मीद है। जिनमें से 84.3 प्रतिशत व्यक्ति 15-30 आयु वर्ग के होंगे। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम  भारत की ऐसी पहली और एकमात्र संस्था है जिसका मूल उद्देश्य कौशल विकास है और जो निजी तथा सरकारी साझेदारी में काम करने वाली इकाई है। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम यह वित्त प्रदान कर उनके लिए उत्प्रेरक का कार्य करती है।...साथियों बात अगर हम भारत में इसको मनाने की करें तो 15 जुलाई 2021 को माननीय पीएम ने इस सम्मेलन को वर्चुअल संबोधित किया और कहानई पीढ़ी का कौशल विकास राष्ट्रीय आवश्यकता है और आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद है। कौशल का सम्मान हमारी संस्कृति का अंग है और समाज में कुशल कामगारों को उचितसम्मान मिले। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’ के तहत 1.25 करोड़ से अधिक युवाओं को प्रशिक्षण दिया गया है। भारत विश्व को हुनरमंद और कुशल श्रम-शक्ति समाधान दे रहा है, जिसे हमारे युवाओं को कुशल बनाने के लिये रणनीति का अहम हिस्सा होना चाहिये महामारी के खिलाफ असरदार जंग में भारत की कुशल कामगार शक्ति ने मदद की है। युवाओं के स्किलिंग, री-स्किलिंग और अपस्किलिंग अभियान को निरंतर चलाया जाये। कमजोर वर्ग को कुशल बनाकर स्किल इंडिया मिशन डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर के स्वप्न को साकार कर रहा है। पीएम ने कहा है कि नई पीढ़ी का कौशल विकास राष्ट्रीय आवश्यकता और आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद है, क्योंकि यही पीढ़ी हमारे गणराज्य को 75 वर्ष से 100 वर्ष तक लेजायेगी उन्होंने आह्वान किया कि पिछले छह वर्षों के दौरान जो भी अर्जित किया गया है, उससे लाभ उठाने के लिये स्किल इंडिया मिशन को गति देनी होगी।पीएम विश्व युवा कौशल दिवस के अवसर पर बोल रहे थे। आज ये जरूरी है कि लर्निंग आपकी अर्निंग के साथ ही रुके नहीं। आज दुनिया में स्किल्स की इतनी डिमांड है कि जो स्किल्ड होगा वही ग्रो करेगा। ये बात व्यक्तियों पर भी लागू होती है और देश पर भी...। साथियों बात अगर हम विश्व युवा कौशल विकास दिवस 2021 की पृष्ठभूमि की करें तो, 18 दिसंबर 2014 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने सर्वसम्मति से श्रीलंका के नेतृत्व में एक प्रस्ताव अपनाया, और 15 जुलाई को विश्व युवा कौशल दिवस के रूप में घोषित किया। वैश्विक स्तर पर युवा कौशल विकास के महत्व को उजागर करने के लिए श्रीलंका ने G77 (77 देशों का समूह) और चीन की सहायता से इस संकल्प की शुरुआत की थी। अतः उपरोक्त पूरे विवरण का अगर हम अध्ययन कर उसका विश्लेषण करेंगे तो हम देखेंगे कि तकनीकी कौशल विकास के अस्त्र से बेरोजगारी आसानी से मिटाई जा सकती है और आत्मनिर्भर भारत की यह बुनियाद होगी और हर नागरिक अपने कौशल विकास का क्रियान्वयन करें तो भारत में बेरोजगारी जीरो होगी और आत्मनिर्भर भारत की एक सटीक बुनियादी होगी। 
संकलनकर्ता-कर विशेषज्ञ एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र

*AD : Prasad Group of Institutions | Jaunpur & Lucknow | ADMISSION OPEN 2021-22 | MBA, B.Tech, B.Pharm, D.Pharm, Polytechnic | B.Pharm, D.Pharm & Polytechnic Contact Us 7408120000, 9415315566 | B.Tech, MBA Contact Us 9721457570, 9628415566 | Punch-Hatia, Sadar, Jaunpur, Uttar Pradesh | www.pgi.edu.in*
Ad

*Ad : ◆ शुभलगन के खास मौके पर प्रत्येक 5700 सौ के खरीद पर स्पेशल ऑफर 1 चाँदी का सिक्का मुफ्त ◆ प्रत्येक 11000 हजार के खरीद पर 1 सोने का सिक्का मुफ्त ◆ रामबली सेठ आभूषण भण्डार (मड़ियाहूँ वाले) ◆ 75% (18Kt.) है तो 75% (18Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ 91.6% (22Kt.) है तो (22Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ वापसी में 0% कटौती ◆ राहुल सेठ 09721153037 ◆ जितना शुद्धता | उतना ही दाम ◆ विनोद सेठ अध्यक्ष- सर्राफा एसोसिएशन, मड़ियाहूँ पूर्व चेयरमैन प्रत्याशी- भारतीय जनता पार्टी, मड़ियाहूँ मो. 9451120840, 9918100728 ◆ पता : के. सन्स के ठीक सामने, कलेक्ट्री रोड, जौनपुर (उ.प्र.)*
Ad


*प्रवेश प्रारम्भ : मो० हसन पी.जी. कालेज, जौनपुर | स्व. नूरुद्दीन खाँ एडवोकेट गर्ल्स डिग्री कालेज, अफलेपुर मल्हनी बाजार, जौनपुर | सत्र 2021-22 में प्रवेश प्रारम्भ - सीमित सीटें (बीए, बीएससी, बीकाम एवं एमए, एमएससी, एमकाम) पूर्वांचल वि.वि. में संचालित सभी पाठ्यक्रम | न्यू कोर्स स्नातक स्तर पर - संगीत- तबला, सितार एवं बीबीए स्नातकोतर स्तर पर – बायोकमेस्ट्री, माइकोबाइलॉजी एवं कम्प्यूटर साइंस | शुल्क- अत्यन्त कम एवं दो किस्तों में जमा की जा सकती है| 1- भव्य प्रयोगशाला, 2- योग्य प्राध्यापक, 3- कीड़ा स्थल | सभी विषयों में ऑनलाइन/आफलाइन कक्षाएं 05 जुलाई 2021 से प्रारम्भ कर दी जायेगी. अधिक जानकारी के लिए निम्न नम्बर पर सम्पर्क करें (05452-268500) 9415234384, 9336771720, 7379960609*
Ad




from Naya Sabera | नया सबेरा - No.1 Hindi News Portal Of Jaunpur (U.P.) https://ift.tt/3hGXfCT


from NayaSabera.com

Comments